June 6, 2011

मेरा ज़मीर

कोमा में गया
फिर जागा ही नहीं
मेरा ज़मीर


-आर पी शुक्ल


( साभार इन्द्रधनुष हाइकु संकलन )

No comments: