August 28, 2011

तप्त आकाश


तप्त आकाश
झरबेरियाँ सूखीं
बच्चे उदास ।

 
-डा० गोपालबाबू शर्मा
( " मोती कच्चे धागे में " हा०सं० से साभार )

No comments: