August 26, 2012

अँधेरी रात



अँधेरी रात
तारे कीलें ठोंकते
उजियारे की


-सदाशिव कौतुक
(एक तिली, हाइकु संग्रह से साभार)

No comments: