January 26, 2014

ले चली हवा

ले चली हवा
फूलों की पिटारी से
सोंधी सी गंध

-डा० मनोहर अभय
[हाइकु दर्पण 08 से]

1 comment:

sunita agarwal said...

अतिसुन्दर