September 25, 2011

भरी भीड़ में

भरी भीड़ में
हरेक पे हावी था
अकेलापन ।


-पवन कुमार
( हाइकु 2009 से साभार )

No comments: