October 10, 2012

बाँसों को लड़ा



बाँसों को लड़ा
हवा, हो गई हवा
झुलसा वन

आदित्य प्रताप सिंह

No comments: