October 4, 2013

ले गया छीन

ले गया छीन
शिशिर महाजन
सूर्य का धन

-डा० रामसनेहीलाल शर्मा यायावर
[काँधे पै घर, हाइकु संग्रह से साभार] 

No comments: